Processor Memory Organization को समझें (C1A1)

पीएलसी मैं Processor Memory Organization कैसे होती है आज हम इस बारे मैं बात करेंगे |


व्यापक रूप से देखे तो पीएलसी अपनी मेमोरी को दो पार्ट मैं Divide करती है


1) - Program Files

2)- Data Files



Program files, Processor Memory का वह पार्ट है जहाँ " Ladder Logic Program " Store होता है | मेमोरी का ज्यादातर हिस्सा Ladder Logic Program ही ले लेता हैं, इन logics मैं वह Instructions भी है जो हम लैडर लॉजिक प्रोग्राम बनाते समय Use करते है , ज्यादा तर Instruction

(1 word) 16bit ऑफ़ मेमोरी Use करते है |


Data files मैं Input and output Devices का Status store होता है जैसे मान लो आप ने इनपुट पर लगा हुआ एक switch press किया वह स्विच OFF से ON हो गया अब ये बात पीएलसी मैं data files मैं STORE

होगी , की input का status अब zero (off) से one(on) हो गया है |


न केवल input और output का status, data files मैं store होता है बल्कि Timer, counter values data storage आदि भी data files मैं store होती हैं |


नोट: - status , ON /OFF Information है जो की 1s एंड 0s की form मैं स्टोर होती है , जो की 1 बिट data है उसे unique bit लोकेशन पर store किया जा सकता है लेकिन number और code information


को आपको स्टोर करना है तो Byte(4bit ) और Word (16bit) मैं स्टोर होगा| अगर ये Bit , Byte का Concept Clear नहीं हो रहा है तो आप Vidyatrans यूट्यूब Channel पर जाकर "Digital Electronics " के लेक्टर्स देख सकते है |



पीएलसी का पूरा कोर्स देखें











52 views0 comments

Recent Posts

See All